Cg Krishak Unnti Yojana Budget 2024 : छत्तीसगढ़ के किसानो का इस साल का बोनस हुआ जारी

Cg Krishak Unnti Yojana Budget 2024 : छत्तीसगढ़ के किसानो का इस साल का बोनस हुआ जारी

कृषक उन्नति योजना Krishak Unnti Yojana : कृषक उन्नति योजना छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किसानों के हित में एक बड़ी योजना छत्तीसगढ़ में शुरू होने जा रहा है, इस योजना के तहत छत्तीसगढ़ के लाखों किसानों को फायदा मिलने वाला है। इस योजना का घोषणा चुनाव के वक्त बीजेपी ने छत्तीसगढ़ के किसानों के लिए किया था, योजना का खासियत की बात करें तो इस योजना के तहत धान का दाम एमएसपी (msp) समर्थन मूल्य से भी ज्यादा किसानों को मिलने वाला है। आज के इस पोस्ट पर हम छत्तीसगढ़ कृषक उन्नति योजना के बारे में विस्तृत से जानने वाले हैं, तो पूरी पोस्ट पर बने रहिएगा आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे कृषक उन्नति योजना का पंजीयन कैसे होगा? कृषक उन्नति योजना का फायदा के बारे में, कृषक उन्नति योजना की विशेषता, कृषक उन्नति योजना के तहत कितना रुपया किसानों को मिलेगा?

कृषक उन्नति योजना जैसे कि नाम से ही प्रतीत होता है कि इस योजना से किसानों का उन्नति, किसानों का विकास, किसने की आर्थिक स्थिति में सुधार, इस तरह के अनेक लाभ किसानों को इस योजना के तहत मिलने वाले हैं। जैसे कि पहले ही हम आप लोगों को बता चुके हैं कि छत्तीसगढ़ कृषक उन्नति योजना को भाजपा की सरकार द्वारा शुरू किया जा रहा है जिसका लाभ छत्तीसगढ़ के लाखों किसानों को मिलेगा।


छत्तीसगढ़ कृषक उन्नति योजना वह योजना है जैसे कि सरकार द्वारा घोषणा किया गया है। योजना के तहत किसानों को धान का समर्थन मूल्य भुगतान के बाद भी अतिरिक्त राशि यानी अंतर की राशि किसानों को दिया जाएगा। तकरीबन 917 रुपए प्रति किंटल अतिरिक्त किसानों को मिलेंगे। इस तरह छत्तीसगढ़ कृषक उन्नति योजना के तहत छत्तीसगढ़ किसानों को धान का दाम 3100 रूपये प्रति क्विंटल मिलेगा।

योजना के प्रमुख घटक इस प्रकार हैं:

  • कृषि ऋण पर ब्याज सब्सिडी: किसानों को फसल ऋण पर 2% ब्याज सब्सिडी दी जाती है।
  • प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM-Kisan): इस योजना के तहत, सभी किसानों को प्रति वर्ष 6,000 रुपये की आय सहायता प्रदान की जाती है।
  • फसल बीमा योजना: किसानों को अपनी फसलों को प्राकृतिक आपदाओं से बचाने के लिए फसल बीमा योजना के तहत कवर किया जाता है।
  • मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना: किसानों को अपनी मिट्टी की उर्वरता का परीक्षण करने और उचित उर्वरक और उर्वरक उपयोग के बारे में सलाह प्राप्त करने के लिए मृदा स्वास्थ्य कार्ड प्रदान किए जाते हैं।
  • राष्ट्रीय कृषि बाजार (eNAM): eNAM एक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है जो किसानों को अपनी उपज को सीधे खरीदारों को बेचने की अनुमति देता है।

योजना के लाभ इस प्रकार हैं:

  • यह किसानों को अपनी कृषि गतिविधियों के लिए ऋण प्राप्त करने में मदद करती है।
  • यह किसानों की आय में वृद्धि करने में मदद करता है।
  • यह किसानों को अपनी फसलों को प्राकृतिक आपदाओं से बचाने में मदद करता है।
  • यह किसानों को अपनी मिट्टी की उर्वरता में सुधार करने में मदद करता है।
  • यह किसानों को बेहतर कीमत पर अपनी उपज बेचने में मदद करता है।

योजना के लिए पात्रता मानदंड इस प्रकार हैं:

  • किसान भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • किसान के पास खेती योग्य भूमि होनी चाहिए।
  • किसान का नाम भूमि अभिलेखों में दर्ज होना चाहिए।

योजना के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया इस प्रकार है:

  • किसान योजना के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं।
  • ऑनलाइन आवेदन करने के लिए, किसानों को कृषि मंत्रालय की वेबसाइट पर जाना होगा।
  • ऑफलाइन आवेदन करने के लिए, किसानों को अपने नजदीकी कृषि कार्यालय से आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा।
  • आवेदन पत्र को सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ जमा करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *